News

"आज के मैच में सिर्फ एक अच्छे प्रदर्शन को चुनना काफी मुश्किल है": ट्रेंट बोल्ट

टीम एमआई ने एसआरएच के खिलाफ आज के मैच में 13 रन की जीत के साथ कुछ जानी पहचानी सी इबारत लिखी - डिफेंड करने के लिए ठीक वैसे ही छोटा स्कोर दिया गया, प्रतिद्वंद्वी टीम के द्वारा एक अच्छी शुरुआत देखने को मिली, और शानदार गेंदबाज़ी की बदौलत एक बार फिर टीम ने मैच जीत लिया।

देखा जाए तो इस मैच में वापसी करने में मुख्य रूप से दो गेंदबाजों राहुल चाहर और ट्रेंट बोल्ट का योगदान रहा, जिन्होंने एक समान विकेट झटके। इसी के चलते उन्होंने एसआरएच को 150 रन के लक्ष्य का पीछा करने से रोक दिया और 20वें ओवर तक पूरी टीम को ऑल ऑउट करने में सफल रहे।

मीडिया ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस के लिए बोल्ट को पकड़ा। यहां उसी के कुछ अंश हम आपके साथ साझा कर रहे हैं:

आज के खेल का सबसे महत्वपूर्ण प्रदर्शन कौन सा था?

बोल्ट: "मुझे लगता है कि यहां पर एक महत्वपूर्ण प्रदर्शन को चुनना कठिन है। लेकिन मुझे लगता है कि राहुल के विकेट लेने से हमें काफी फायदा हुआ। उन्हें कुछ ही रनों की जरूरत थी लेकिन जिसकी जरूरत थी वो करने में हम कामयाब रहे। इसलिए शायद हमें कुछ विकेट ऐसे मिले जिसके चलते हम मैच में वापसी कर सके। इसलिए मुझे लगता है कि हार्दिक का डायरेक्ट हिट, राहुल के तीन विकेट, और बुमराह की तीसरे-चौथे ओवर में 14 रन देकर की हुई गेंदबाज़ी उतनी ही अहमियत रखती है।”

जसप्रीत के साथ गेंदबाजी करना कितना अच्छा लगता है?

बोल्ट: "हां अच्छा लगता है, इस तरह से एक खिलाड़ी को गेंदबाज़ी करते हुए देखना बहुत अच्छा लगता है, वह अपने पूरे स्पेल में बहुत सटीक गेंद डाल रहे थे, लेकिन डेथ ओवर्स की बात करें तो मैं मानता हूं कि वह विश्व के सर्वश्रेष्ठ डेथ बॉलर में से एक है।" इसलिए, वह मेरे काम को बहुत आसान बना देते हैं। अच्छी टीम के साथ होना हमेशा अच्छा होता है और उम्मीद है कि अब हम इस टूर्नामेंट में थोड़ी गति हासिल कर सकते हैं।”

आपको क्या लगता है कि तेज़ गेंदबाज आईपीएल में सफल क्यों रहे हैं? क्या आपको भारत में ऐसे विकेटों की उम्मीद थी, जिसमें ज्यादातर स्पिनर हावी हों?

बोल्ट: "मुझे नहीं पता कि आप सही हैं लेकिन हां राहुल को हमारी ओर से सबसे अधिक विकेट मिले हैं। लेकिन, वानखेड़े और चेपॉक के बीच का अंतर काफी विचार करने लायक है। वहां मैं अच्छी स्विंग हासिल करता हूं और मुंबई में पिच काफी अच्छी है। और यहां एक तेज गेंदबाज के रूप में मुझे लगता है कि आपको बेहद सटीक होना चाहिए और हमेशा बल्लेबाज से एक कदम आगे रहने की कोशिश करनी चाहिए। पिछले कुछ प्रदर्शनों की बात करें तो मुझे लगता है कि वह वास्तव में वहां उनकी क्षमता के साथ बने रहते हैं और एक-दो डॉट बॉल डालकर रन-रेट को बढ़ने से रोकते हैं। वह हमें अंतिम ओवरों में दबाव की स्थिति से बाहर निकाल लाते हैं।”

एक ही खेल स्थान पर कई मुक़ाबले खेलना कितना आसान या मुश्किल है?

बोल्ट: "मुझे लगता है कि यह बहुत ही अलग है। बहुत कम ही आपको एक खेल स्थान पर खेलने का मौका मिलता है। लेकिन, महत्वपूर्ण यह होगा कि स्थितियों को जल्द से जल्द समझा जाए और इसका अधिकतम लाभ उठाया जाए। तो, यह एक बहुत ही खास स्थिति है, हमें यहां पांच मुक़ाबले खेलने को मिल रहे हैं, उससके बाद चार दिल्ली में और फिर हमें थोड़ा आगे बढ़ने का मौका मिलेगा। लेकिन, मुझे लगता है कि विशेष तौर पर टूर्नामेंट के पहले भाग में कुछ अच्छे परिणाम के साथ होना अच्छा होगा। पिछले दो मैचों में जीत हासिल करना अच्छा था।”

हमें उम्मीद है कि आप हमारे लिए ऐसी ही और जीत हासिल करेंगे और साथ ही हमें आपके विकेट चटकाने का लुत्फ उठाने का भी मौका मिलेगा!