News

यादगार जीत पर तिलक, डेविड और सैम्स ने अपने विचार किए साझा

वानखेड़े स्टेडियम में सीएसके के खिलाफ यादगार जीत से ड्रेसिंग रूम का माहौल पूरी तरह से खुशनुमा हो गया। इस जीत पर हमारे तीन सितारों - तिलक वर्मा, डेनियल सैम्स और टिम डेविड ने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। 

तिलक काफी खुश थे कि उन्होंने ऋतिक शौकीन के साथ मिलकर 48 रनों की साझेदारी करके टीम की पारी को आगे बढ़या। उनके प्रयासों ने टीम को जीत की दहलीज पार कराई। 

तिलक ने कहा, “मेरा लक्ष्य हमेशा टीम को जीत की ओर ले जाना रहा है, चाहे मैं कितना भी स्कोर करूं। मुझे केकेआर के खिलाफ भी मौका मिला था, लेकिन दुर्भाग्य से मैं आउट हो गया। मैं यह सुनिश्चित करना चाहता था कि मैं सीएसके के खिलाफ मिले अवसर का लाभ उठाऊं।” 

19 वर्षीय खिलाड़ी के लिए वानखेड़े में एक विशेष अतिथि भी थे, जिसकी मौजूदगी ने जीत को और मधुर बना दिया। 

तिलक ने कहा, “यह विशेष अतिथि कोई और नहीं बल्कि मेरे कोच (सलाम बयाश) थे, जो मुझे लाइव देखने आए थे और उनके सामने ऐसा करना अद्भुत था। वह टीम की जीत के लिए भी खुश हैं और आज उन्होंने मेरे प्रयासों की सराहना भी की।” 

"मैं अपने पलटन को धन्यवाद देना चाहता हूं, जो हमारे दिग्गजों को प्रोत्साहित करते आए हैं और अब जब मैं इसमें अपना नाम सुनता हूं, तो इससे मुझे बहुत आत्मविश्वास मिलता है। मुझे उम्मीद है कि मैं ऐसा ही करता रहूंगा।" 

बिग हिटर टिम डेविड को देखने के लिए भी एक विशेष अतिथि मौजूद थे। 

डेविड ने मैच के बाद कहा, "मेरे पिताजी अभी क्वारंटाइन से बाहर निकले हैं, इसलिए उनके लिए वानखेड़े में पहली बार सीएसके बनाम एमआई जैसे बड़े मैच को देखना अच्छा था।"

डेविड के पिता ने देखा कि उनके बेटे ने दो बड़े छक्कों के साथ मैच को खत्म किया और उन्होंने हमारे युवा बल्लेबाजों तिलक और ऋतिक की प्रशंसा की। जिन्होंने हमें मजबूत स्थिति में पहुंचाया था। 

उन्होंने कहा, “यह एक दिलचस्प मैच था और जब हम बाहर निकले तो हमें इसकी उम्मीद नहीं थी। सीएसके को मैच में वापस नहीं आने देना महत्वपूर्ण था इसलिए हमने उनकी पारी को समाप्त करने के लिए अच्छी गेंदबाजी की। थोड़ी देर के लिए बल्लेबाजी करना कठिन लग रहा था और यह थोड़ा ट्रिकी हो गया था लेकिन तिलक और ऋतिक ने शानदार बल्लेबाजी की। जिसने मैच को खत्म कर दिया। हमने इस मैच में अपना कदम बढ़ाया और बड़ा दिल दिखाया।” 

आधिकारिक रूप से 'प्लेयर ऑफ द मैच' चुने गए डेनियल सैम्स ने पहले ओवर में दो व पावरप्ले में एक और विकेट लेकर कुल तीन विकेट चटकाए। उन्होंने निश्चित रूप से वानखेड़े की परिस्थितियों का फायदा उठाया। 

सैम्स ने कहा, “यह सीजन की पहली ऐसी रात थी, जहां सभी चीजें हमारे पक्ष में घट रही थीं। जहां पहली गेंद से सब कुछ हमारे हिसाब से चल रहा था। गेंद के जल्दी स्विंग होने से हमने कुछ विकेट लिए और इसे जारी रखने में सफल रहे। टी20 मैच में गेंद को हावी होते देखना अच्छा था और यह शानदार ऑलराउंड प्रदर्शन था।” 

डैन ने मैच का 15वां ओवर भी फेंका जब एमएस धोनी सीएसके के लिए अंतिम मान्यता प्राप्त बल्लेबाज थे और इसके लिए उनकी योजनाएं थीं। 

सैम्स ने अपनी बात खत्म करते हुए कहा, “एक ऐसे बल्लेबाज को गेंदबाजी करना हमेशा दिलचस्प होता है जो सिंगल नहीं लेता हो। मैंने सोचा था कि मैं अपनी धीमी गति से गेंदबाजी करूंगा, जिस पर आक्रमण करना उनके लिए कठिन होगा और ऐसा ही हुआ।”

अपने घर में ऐसे प्रदर्शन के बाद हमारी टीम में जश्न का माहौल था और हम निश्चित रूप से आगे भी ऐसा ही खेल दिखाएंगे!